Friday, October 22, 2021
HomeViral NewsVideo: इंजेक्शन देख बच्चों की तरह रोने लगी महिला, वैक्सीन लगा रहे...

Video: इंजेक्शन देख बच्चों की तरह रोने लगी महिला, वैक्सीन लगा रहे डॉक्टर की भी छूटी हंसी


Video: इंजेक्शन देख बच्चों की तरह रोने लगी महिला, वैक्सीन लगा रहे डॉक्टर की भी छूटी हंसी

By Rahul Kumar

|

Google Oneindia News

नई दिल्ली,जुलाई 13: कोरोना वैक्सीन के खिलाफ अगर लड़ाई को जीतना है तो वैक्सीनेशन बहुत जरूरी है। देश में इस समय बड़े पैमाने पर वैक्सीनेशन ड्राइव चल रही है। इस दौरान के कई वीडियो देखने को मिल रहे हैं। लेकिन जिन लोगों को ट्रिपैनोफोबिया है, उन्हें वैक्सीन लगवाने में दिक्कत हो रही है। ट्रिपैनोफोबिया दरअसल ऐसा डर है जिसमें लोगों को इजेक्शन से डर लगता है। ट्रिपैनोफोबिया के डर से ही कई लोग वैक्सीन लगवाने से डर रहे हैं।

बच्चे की तरह जोर-जोर से चीखने लगती महिला

बच्चे की तरह जोर-जोर से चीखने लगती महिला

ट्रिपैनोफोबिया से ग्रसित एक ऐसी ही महिला का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। जो कोरोना की वैक्सीन लगवाने के लिए वैक्सीनेशन सेंटर पहुंची थी। वीडियो में महिला टीकाकरण केंद्र पर नारंगी रंग की साड़ी पहने सिर पर पल्लू लिए बैठी नजर आ रही है। टीका लगते ही उसके चेहरे का रंग बदल जाता है और वह बच्चे की तरह जोर-जोर से चीखने लगती है। जिसे देखकर लोगों की हंसी छूट गई।

    Mussoorie में Tourists की भारी भीड़, 3 लोग Corona Positive, 17 संपर्क में आए | वनइंडिया हिंदी

    लोगों को महिला का चिल्लाना लगा ओवर एक्टिंग

    जब महिला चिल्लाती है, तो उसके आसपास के अन्य लोग जो वैक्सीन लेने के लिए आए थे वे घबरा जाते हैं। जब से वीडियो वायरल हुआ है, लोग महिला का मजाक उड़ा रहे हैं और संदेह कर रहे हैं कि क्या उसे वास्तव में दर्द महसूस हुआ या यह सब ड्रामा और ओवरएक्टिंग थी। कुछ दिन पहले भी ऐसा ही एक वीडियो सामने आया था जिसमें एक महिला को दो लोगों ने पकड़कर वैक्सीन दिलवाई थी।

    देश में धीमी हुई वैक्सीनेशन की रफ्तार

    देश में धीमी हुई वैक्सीनेशन की रफ्तार

    उधर कोरोना वायरस रोधी टीकाकरण के दैनिक औसत में 21 जून से कमी देखी जा रही है, जब देश में कोविड-19 टीकाकरण का नया चरण आरंभ हुआ था। सरकारी आंकड़ों से यह पता चला है। कोविन प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक 21-27 जून वाले हफ्ते में प्रत्येक दिन कोविड रोधी टीके की औसतन 61.14 लाख खुराक दी गईं। इसके बाद के हफ्ते में 28 जून से 4 जुलाई के बीच यह आंकड़ा कम होकर प्रतिदिन 41.92 लाख खुराक रह गया। 5 से 11 जुलाई वाले हफ्ते में प्रतिदिन लगाई गई टीके की खुराकों की औसत संख्या और कम होकर 34.32 लाख रह गई।

    पृथ्वी के अलावा इस ग्रह पर जीवन की संभावना, बस 'रहस्यमयी झाड़ियों' का राज सुलझाना बाकीपृथ्वी के अलावा इस ग्रह पर जीवन की संभावना, बस ‘रहस्यमयी झाड़ियों’ का राज सुलझाना बाकी

    अधिक coronavirus vaccine समाचार  

    • अगर हिमाचल जा रहे हैं तो साथ लेकर जाएं कोविड की निगेटिव रिपोर्ट, वर्ना नहीं होगी एंट्री
    • केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- कोरोना से मौत के आंकड़ों में गड़बड़ी की संभावना न के बराबर
    • डेल्टा वेरिएंट को लेकर वैक्सीन की बढ़ी मांग, कोविशील्ड ने दिखाया- बन सकती है विकल्प
    • हरियाणा सरकार ने कहा- कोरोना से बचाव के लिए लोगों को 1.23 करोड़ वैक्सीन के डोज दिए जा चुके
    • कोरोना वायरस से बच्चों को किस हद तक है खतरा? नई रिसर्च में हुआ खुलासा
    • Covid-19: देश में फिर बढ़े कोरोना केस, 40 हजार से अधिक नए मरीज, 562 लोगों की मौत
    • कोरोना के खिलाफ जंग तेज, कोविशील्ड की 120 करोड़, कोवैक्सिन की 58 करोड़ डोज़ हर माह बनाने का लक्ष्य
    • Covid-19: स्पुतनिक-वी और कोविशील्ड वैक्सीन के मिश्रण को मिल सकती है मंजूरी
    • कोरोना टीकाकरण अभियान में ओडिशा ने हासिल की ये उपलब्धि, नीति आयोग के सीईओ ने दी बधाई
    • भारत के 8 राज्यों में बढ़ रही Covid-19 R वैल्यू, सरकार ने कहा-दूसरी लहर अभी नहीं हुई खत्म
    • चीन के वुहान में फिर खतरनाक हुआ कोराना वायरस, स्कूल कॉलेजों को किया गया बंद, हर नागरिक का होगा टेस्ट
    • अहमदाबाद में अब तक 462 गर्भवती महिलाओं को वैक्सीन लगी, 24 घंटे में 37,723 टीके लगाए गए



    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    Most Popular

    Recent Comments