Tokyo Olympics: भारतीय महिला हॉकी टीम ग्रेट ब्रिटेन से हारी, PM मोदी ने की भारत के प्रदर्शन की तारीफ
Tokyo Olympics: भारतीय महिला हॉकी टीम ग्रेट ब्रिटेन से हारी, PM मोदी ने की भारत के प्रदर्शन की तारीफ

यह भी पढ़ें

नई दिल्ली (एएनआई)। केंद्रीय कानून और न्याय मंत्री, किरेन रिजिजू ने शुक्रवार को कहा कि मैरी कॉम का टोक्यो ओलंपिक में अपना मुकाबला हारना “दुर्भाग्यपूर्ण” था क्योंकि उन्होंने दूसरे और तीसरे दौर में जीत हासिल की थी। बाउट में, मैरी कॉम को एक चौंकाने वाली हार का सामना करना पड़ा। कोलंबिया की इंग्रिट वालेंसिया ने यह मैच 3-2 से जीत लिया। कोलंबिया की मुक्केबाज महिला फ्लाइवेट (48-51 किग्रा) वर्ग में मैरी कॉम को हराकर शोपीस इवेंट के क्वार्टर फाइनल में पहुँच गई। हालांकि मैरी काॅम की इस हार को लेकर काफी चर्चा है। फैंस का कहना है कि महिला मुक्केबाज को जीतना चाहिए था।

टोक्यो ओलंपिक में ब्रांज मेडल जीतने पर दिग्गजों ने जताई खुशी
टोक्यो ओलंपिक में ब्रांज मेडल जीतने पर दिग्गजों ने जताई खुशी

यह भी पढ़ें

निर्णय को चुनौती देने का कोई तरीका नहीं
मैरीकाॅम की हार को लेकर पूर्व खेल मंत्री किरेन रिजिजू ने कहा, “ओलंपिक में किए गए निर्णय को चुनौती देने का कोई तरीका नहीं है। यह दुर्भाग्यपूर्ण था क्योंकि मैरी कॉम ने दूसरा और तीसरा राउंड जीता, वह एक अंक से हार गईं। मुझे यह समझ में नहीं आया, मैं IOA अध्यक्ष नरिंदर बत्रा से बात की है, हमें अपील करने का अधिकार नहीं है, इसलिए मुझे नहीं लगता कि कुछ हो सकता है।’

मैरी काॅम हमारे लिए सुपरस्टार हैं
पूर्व खेल मंत्री ने कहा, “मैं सिर्फ मैरी कॉम को बताना चाहता हूं कि आप पहले से ही चैंपियन हैं, आप छह बार वर्ल्ड चैंपियन रही हैं और आप ओलंपिक पदक विजेता हैं। मैरी कॉम अलग कद की हैं, वह पहले से ही हमारे लिए सुपरस्टार हैं।” शुक्रवार को लवलीना बोरगोहेन (69 किग्रा) ने महिला वेल्टरवेट (64-69 किग्रा) वर्ग के सेमीफाइनल में प्रवेश कर भारत को कांस्य पदक दिलाया।

लवलीना को दी बधाई
लवलीना के प्रदर्शन के बारे में बात करते हुए, रिजिजू ने कहा: “मैं बहुत उत्साहित हूं कि टोक्यो ओलंपिक में हमारा दूसरा पदक पक्का हो गया है। मुझे लवलीना को उसकी प्यारी मुक्केबाजी के लिए बधाई देनी चाहिए। लवलीना एक मेहनती और समर्पित मुक्केबाज है, वह युवा है। वह असम से है और उसने भारत को गौरवान्वित किया है। उसने अपने क्वार्टर फाइनल में जिस तरह से प्रदर्शन किया, मैं सेमीफाइनल की ओर देख रहा हूं और उम्मीद है कि वह गोल्ड मेडल लेकर लौटेगी।’