Sharad Navratri 2020 Day 8 Maa Mahagauri Live Aarti: महागाैरी मां दूर करती हैं विवाह में आ रही परेशानी, मिलता है मनचाहा जीवनसाथी
Sharad Navratri 2020 Day 8 Maa Mahagauri Live Aarti: महागाैरी मां दूर करती हैं विवाह में आ रही परेशानी, मिलता है मनचाहा जीवनसाथी

यह भी पढ़ें

कानपुर (इंटरनेट-डेस्क)। नवरात्रि के नवें एवं अन्तिम दिन सिद्धिदात्री देवी की पूजा की जाती है। इनके बारे में कहा गया है अर्णिमा, महिमा, गरिमा, लघिमा, प्राप्ति, प्राकाम्य, ईशित्व एवं वाशित्व आठ सिद्धियां इनमें विराजमान होती है। इसलिए इस देवी को सच्चे मन से विधि-विधान से पूजा या आराधना करे से सभी तरह की सिद्धियां प्राप्त की जा सकती है। देवी की कृपा से ही शिव जी का आधा शरीर देवीमय हो गया है। इस देवी के दाहिने तरफ वाले हाथ में चक्र, उपर वाले हाथ में गदा तथा बाईं तरफ के नीचे वाले हाथ में शंख और ऊपर वाले हाथ में कमल का पुष्प है। इस देवी की साधना करने से अलौकिक एवं पारलौकिक कामनाओं की पूर्ति होती है।
सिद्धिदात्रीः-
सिद्धगंधर्वयक्षाद्यैरसुरैरमरैरपि।
सेव्यमाना सदा भूयात् सिद्धिदा सिद्धिदायिनी।।

सारी सिद्धियों का लाभ भक्तजन प्राप्त करने में सफल हो सकते
यह देवी सभी सिद्धियों को देने वाली है इसलिए भक्तजन इनके आशीर्वाद की कामना करते है यदि इनका आशीर्वाद मिल जाये तो सारी सिद्धियों का लाभ भक्तजन प्राप्त करने में सफल हो सकते है और सुखमय जीवन प्राप्त कर सकते है। महानवमी के सुबह स्नानादि से निवृत होकर मां सिद्धिदात्री की विधि विधान से पूजा करें। पूजा में माता को तिल का भोग लगाएं। इससे आपके साथ कोई अनहोनी नहीं होगी। माता सिद्धिदात्री हमेशा रक्षा करेंगी।

Sharad Navratri 2020 Day 7 Maa Kalaratri Live Aarti: अकाल मृत्‍यु का भय और कष्‍ट दूर करती मां कालरात्रि, सातवें दिन होती है पूजा
Sharad Navratri 2020 Day 7 Maa Kalaratri Live Aarti: अकाल मृत्‍यु का भय और कष्‍ट दूर करती मां कालरात्रि, सातवें दिन होती है पूजा

यह भी पढ़ें

Happy Sharad Navratri 2020 Wishes, Images, Status: नवरात्रि की पावन शुभकामनाएं सभी अपनों को भेजें और बांटें माता का आशीर्वाद

Sharad Navratri 2020 Live Aarti-Darshan: इस नवरात्रि दिव्‍य शक्तिपीठों से करें मां दुर्गा के लाइव दर्शन व आरती

Shardiya Navratri 2020 Day 1: देवी शैलपुत्री की पूजा से स्वाभिमान एवं दृढ़ता में होती है वृद्धि, ऐसे करें मां की आरती