लखनऊ (पीटीआई)। उत्तर प्रदेश सरकार ने कोविड-19 महामारी के कारण लंबे समय से बंद स्कूलों को लेकर सोमवार को एक बड़ा फैसला लिया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में अधिकारियों की बैठक के बाद जारी एक आदेश के अनुसार, उत्तर प्रदेश में हाई स्कूल और इंटरमीडिएट स्कूल 16 अगस्त से कक्षाएं फिर से शुरू करेंगे। हालांकि साथ ही यह भी स्पष्ट कर दिया है कि कक्षाएं केवल 50 प्रतिशत स्टूडेंट की उपस्थिति के साथ ही शुरू होंगी और स्कूलों को इस दाैरान कोविड-19 प्रोटोकाॅल का पूरा पालन करना होगा।

16 अगस्त से स्कूलों में अध्यापन कार्य शुरू होगा

अतिरिक्त मुख्य सचिव (सूचना) नवनीत सहगल ने न्यूज एजेंसी पीटीआई को बताया कि हाई स्कूल और इंटरमीडिएट शिक्षण संस्थाओं के स्टूडेंट 15 अगस्त को स्वंतत्रता दिवस की 75वीं वर्षगांठ के कार्यक्रम में शामिल होंगे। इसके बाद 16 अगस्त से कोविड-19 के दिशानिर्देशों का पालन करते हुए आधी क्षमता के साथ स्कूलों में अध्यापन कार्य शुरू होगा। इसके अलावा एक सितंबर से उच्च शिक्षण संस्थानों में कक्षाएं शुरू करने के निर्देश भी जारी किए गए हैं।

पंजाब में आज सोमवार से खुल गए सभी स्कूल

बता दें कि वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के चलते बीते एक साल से ज्यादा से स्कूल काॅलेज बंद हैं। हालांकि अब इनके खुलने का सिलसिला शुरू हो गया हैं। आज साेमवार को पंजाब में एक साल बाद पंजाब में कोरोना प्रोटोकॉल और तमाम एहतियातों के साथ स्कूल फिर से खुल गए हैं। यहां छात्रों को भी अपना खुद का सैनिटाइजर ले जाने के लिए और मास्क पहनना अनिवार्य कर दिया गया है। वहीं बच्चे भी करीब एक साल बाद स्कूल पहुंचकर काफी खुश हो रहे हैं।