संसद के मानसून सत्र में सरकार तमाम बिल पास कराने को तैयार, विपक्ष और किसान मिलकर सरकार को घेरेंगे
संसद के मानसून सत्र में सरकार तमाम बिल पास कराने को तैयार, विपक्ष और किसान मिलकर सरकार को घेरेंगे

यह भी पढ़ें

नई दिल्ली (पीटीआई)। संसद का मानसून सत्र आज सोमवार से शुरू हो रहा है। मानसून सत्र 13 अगस्त तक चलने वाला है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को संसद के मानसून सत्र में सांसदों और राजनीतिक दलों से सरकार से सबसे तीखे और कठिन सवाल पूछने का आग्रह किया, और कहा कि सरकार को भी उनका जवाब देने की अनुमति दी जानी चाहिए। सत्र की शुरुआत से पहले पत्रकारों से बात करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि वह कोविड महामारी पर संसद में सार्थक चर्चा चाहते हैं, जिसने पूरी दुनिया को जकड़ लिया है। सभी व्यावहारिक सुझाव सभी सांसदों से मिलें ताकि महामारी के खिलाफ लड़ाई में नयापन आ सके और कमियों को भी ठीक किया जा सकता है।

सरकार वह जवाब देने को तैयार है
पीएम ने कहा कि उन्होंने सदन के सभी नेताओं से आग्रह किया है कि अगर वे कल शाम को समय निकालें तो वह महामारी के संबंध में सारी विस्तृत जानकारी उनको देना चाहते हैं।वह सदन के अंदर और सदन के बाहर भी चर्चा चाहते हैं। देश की जनता जो जवाब चाहती है सरकार वह जवाब देने को तैयार है। पीएम ने कहा कि वह आशा करते हैं कि आप सबको वैक्सीन की कम से कम एक डोज लग गई होगी। वैक्सीन बाहु पर लगती है और जब बाहु पर लगती है तो आप बाहुबली बन जाते हैं। अब तक 40 करोड़ से ज्यादा लोग बाहुबली बन चुके हैं।

रविवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई
इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई थी। बैठक में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल, राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल और संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी समेत कई नेताओं ने भाग लिया था। इस बात की जानकारी खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नरेंद्र मोदी ने मीटिंग के बाद ट्विटर हैंडल पर लिखा, मानसून सत्र से एक दिन पहले सर्वदलीय बैठक में हिस्सा लिया। हम लोग उम्मीद करते हैं कि इस सत्र में प्रोडक्टिव डिस्कशन हुआ है।