नई दिल्ली (एएनआई)। Lockdown In Delhi कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए देश की राजधानी दिल्ली की सरकार ने लाॅकडाउन लगाने का फैसला लिया है। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को कहा कि पिछले 24 घंटे में लगभग 23,500 मामले आए हैं। संक्रमण दर बहुत ज्यादा बढ़ गई है। दिल्ली के अस्पतालों में बेड की भारी कमी हो रही है। आईसीयू बेड लगभग खत्म हो रहे हैं। 100 से भी कम आईसीयू बेड बचे हैं। हमारी स्वास्थ्य व्यवस्था बहुत ज्यादा तनाव में है। किसी भी व्यवस्था की अपनी सीमाएं हैं। हम केंद्र सरकार के लगातार संपर्क में हैं। दवाईयों की कमी हो रही है। ऐसे में लाॅकडाउन लगाया जा रहा है। आज रात से 10 बजे से 26 अप्रैल को सुबह 5 बजे तक रहेगा।

सभी से गुजारिश है कि लॉकडाउन का पूरी तरह पालन करें

इस लॉकडाउन में हम बेड, दवाईयां और ऑक्सीजन की व्यवस्था करेंगे। सभी से गुजारिश है कि लॉकडाउन का पूरी तरह पालन करें। इस दौरान घर से बाहर न निकलें। सीएम केजरीवाल ने यह भी कहा कि इस दौरान आवश्यक सेवाएं जारी रहेंगी। लोगों की शादियां केवल 50 लोगों के साथ सम्पन्न होंगी, उसके लिए अलग से पास दिए जाएंगे। मुझे उम्मीद है कि यह छोटा लॉकडाउन है और छोटा ही रहेगा और शायद इसे बढ़ाने की जरूरत नहीं पडे़गी।

प्रवासी मजदूरों से अपील है कि दिल्ली छोड़कर मत जाइएगा

वहीं सीएम ने प्रवासी मजदूरों से अपील है कि दिल्ली छोड़कर मत जाइएगा। आने जाने में इतना समय खराब हो जाएगा। सरकार आपका पूरा ख्याल रखेगी। बता दें कि कोरोना पर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपराज्यपाल अनिल बैजल के बीच आज हुई बैठक के बाद बैन लगाने की घोषणा की गई है। पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के 2,73,810 नए मामले आने के बाद भारत में कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1,50,61,919 पहुंच गई है।