क्रिकेट पर
क्रिकेट पर “आतंकी कब्जे” के साथ, क्या ICC देगा अफगानिस्तान को T20 विश्व कप खेलने की अनुमति

यह भी पढ़ें

नई दिल्ली (पीटीआई)। आईपीएल का मौजूदा सीजन टलने के बाद भारत में इस साल होने वाले टी-20 वर्ल्डकप पर भी संशय बरकरार है। माना जा रहा है कि टूर्नामेंट को यूएई में शिफ्ट किया जा सकता है क्योंकि 16 टीमें जब भारत आएंगी तो उनके लिए बायो बबल बनाना मुश्किल होगा। वर्ल्डकप का आयोजन अक्टूबर-नवंबर में होगा और उस वक्त भारत में कोरोना वायरस की ‘तीसरी लहर’ की उम्मीद की जा रही है। हालांकि इस पर अंतिम फैसला लेना बाकी है। यह समझा जाता है कि भारतीय क्रिकेट बोर्ड अक्टूबर-नवंबर में 16-टीम का टूर्नामेंट आयोजित करने से भी कतरा रहा है।

T20 World Cup 2021: टीम इंडिया अभ्यास मैचों में इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भिड़ेगी
T20 World Cup 2021: टीम इंडिया अभ्यास मैचों में इंग्लैंड, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भिड़ेगी

यह भी पढ़ें

वर्ल्डकप की मेजबानी नहीं है सुरक्षित
बीसीसीआई के अधिकारियों ने केंद्र सरकार के कुछ शीर्ष निर्णय लेने वालों के साथ हाल ही में विचार-विमर्श किया है और टूर्नामेंट को यूएई में शिफ्ट करने की बात हुई है। ऐसा इसलिए भी किया जा रहा है क्योंकि भारत में होने वाले टी-20 वर्ल्डकप को जिन नौ स्थानों पर आयोजित किया जाना है उनकी जगह और तारीख की घोषणा अभी तक नहीं की गई। BCCI के एक वरिष्ठ सूत्र ने कहा, “चार हफ्तों के भीतर आईपीएल का निलंबन एक संकेत है कि उस समय के वर्ल्डकप की मेजबानी करना वास्तव में सुरक्षित नहीं है जब देश पिछले 70 वर्षों में सबसे खराब स्वास्थ्य संकट से जूझ रहा है।”

यूएई शिफ्ट हो जाएगा टूर्नामेंट
उन्होंने कहा, “नवंबर में भारत में तीसरी लहर की उम्मीद की जा रही है। इसलिए जब तक बीसीसीआई मेजबान बनी रहेगी, टूर्नामेंट संभवत: यूएई में स्थानांतरित हो जाएगा।’ मेडिकल एक्सपर्ट ने सितंबर में भारत में तीसरी लहर की चेतावनी दी है। भारत में जिस तरह केस बढ़ रहे हैं ऐसे में आईसीसी के अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टीमों की सुरक्षा के साथ जोखिम लेने की संभावना नहीं है। सूत्र ने कहा, ‘अधिकांश शीर्ष राष्ट्र अगले छह महीनों के भीतर भारत का दौरा नहीं करना चाहेंगे, जब तक कि स्थिति सामान्य नहीं हो जाती। खिलाड़ियों और उनके परिवारों को यात्रा करने के लिए बहुत सावधान रहना होगा यदि वे यहां आते हैं। तो उम्मीद है कि BCCI टूर्नामेंट को UAE शिफ्ट करने में सहमत हो जाएगा।’