Deepak Chahar journey: बेटे का सपना पूरा करने के लिए पिता ने छोड़ी सरकारी नौकरी, घर पर ही बनवा दी पिच
Deepak Chahar journey: बेटे का सपना पूरा करने के लिए पिता ने छोड़ी सरकारी नौकरी, घर पर ही बनवा दी पिच

यह भी पढ़ें

कानपुर (इंटरनेट डेस्क)। दीपक चाहर ने मंगलवार रात कोलंबो में दूसरे वनडे में भारत को जीत दिलाते हुए अपने करियर की सबसे यादगार पारी खेली। जब चाहर बीच में बल्लेबाजी कर रहे थे, भारत के पूर्व कप्तान और इस श्रीलंका श्रृंखला के हेड कोच राहुल द्रविड़ ड्रेसिंग रूम के अंदर कुछ चिंताजनक लग रहे थे। अपने पहले वनडे अर्धशतक से भारत को 3 विकेट से असंभव जीत दिलाने के बाद, चाहर ने खुलासा किया कि द्रविड़ ने मंगलवार को बल्लेबाजी करने से पहले उनसे क्या कहा था।

Ind vs SL: हारा हुआ मैच जीतने पर कोहली नहीं कर पाए कंट्रोल, चाहर को लेकर कर दिया ये ट्वीट
Ind vs SL: हारा हुआ मैच जीतने पर कोहली नहीं कर पाए कंट्रोल, चाहर को लेकर कर दिया ये ट्वीट

यह भी पढ़ें

जीत दिलाकर नाबाद लौटे चाहर
सूर्यकुमार यादव के आउट होने के बाद, जिन्होंने अपना पहला एकदिवसीय अर्धशतक बनाया और 44 गेंदों में 53 रन बनाए। उन्होंने भारत की जीत की नींव रखी मगर जीत की दहलीज पर ले जाने का काम दीपक चाहर और भुवनेश्वर कुमार किया। दोनों ने मिलकर आठवें विकेट के लिए 84 रन की साझेदारी कर लक्ष्य का सफलतापूर्वक पीछा किया।

द्रविड़ ने चाहर से कही थी ये बात
चाहर भारत के लिए टाॅप स्कोरर रहे, नाबाद 69 रन बनाकर प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार हासिल किया। मैच के बाद, 28 वर्षीय ने अपनी पारी के बारे में बात की और खुलासा किया कि मुख्य कोच राहुल द्रविड़ ने उन्हें क्या बताया था। पोस्ट मैच प्रेजेंटेशन सेरेमनी में चाहर ने कहा, ‘देश के लिए मैच जीतने का इससे बेहतर तरीका नहीं हो सकता। राहुल सर ने मुझे सभी गेंदें खेलने को कहा। मैंने भारत ए के साथ कुछ पारियां खेली हैं और मुझे लगता है कि उन्हें मुझ पर भरोसा है। उन्होंने मुझसे कहा कि उन्हें लगता है कि मैं नंबर 7 पर बल्लेबाजी करने के लिए काफी अच्छा हूं। उन्हें मुझ पर विश्वास है। उम्मीद है कि आने वाले मैचों में मुझे बल्लेबाजी नहीं करनी पड़ेगी।’

आठवें नंबर पर दूसरा हाईएस्ट स्कोर
चाहर ने आगे कहा, “यह इस विकेट पर [चेज करने के लिए] एक अच्छा स्कोर था। मेरे दिमाग में केवल एक ही चीज चल रही थी। इस तरह की पारी का मैं सपना देख रहा हूं। जब हम 50 के नीचे आए थे, तब मुझे विश्वास था कि हम जीत सकते हैं। इससे पहले, यह गेंद दर गेंद थी। मैंने इसके बाद कुछ जोखिम उठाए।” चाहर का नाबाद 69 रन वनडे में किसी भारतीय नंबर 8 का दूसरा सर्वोच्च स्कोर है। ऑलराउंडर रवींद्र जडेजा मैनचेस्टर में 2019 विश्व कप में न्यूजीलैंड के खिलाफ 77 रनों की पारी खेली थी और वह पहले नंबर पर हैं। मेहमान टीम ने तीन मैचों की सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त बना ली है। सीरीज के तीसरे और आखिरी मैच में भारत का सामना गुरुवार को इसी मैदान पर श्रीलंका से होगा।