कानपुर (इंटरनेट डेस्क)। भारत बनाम इंग्लैंड के बीच तीन मैचों की वनडे सीरीज की शुरुआत हो चुकी है। पहला मैच पुणे में खेला गया जिसमें विराट सेना को जीत मिली। अब दूसरी भिड़ंत 26 मार्च को पुणे के एमसीए क्रिकेट मैदान पर होगी। यहां की पिच को लेकर काफी चर्चा हुई मगर जब पहला मुकाबला यहां खेला गया तो सभी के चेहरे खिल गए। खासतौर से इंग्लिश टीम को ये पिच खूब रास आई। पेसर्स की मददगार इस पिच पर बैटिंग करना भी आसान है। यही वजह है कि भारत ने पहले मैच में 300 प्लस स्कोर किया मगर इंग्लिश टीम अच्छी शुुरुआत करके ढह गई।

पिच पर बनते हैं ताबड़तोड़ रन
पुणे की इस पिच पर खूब रन बनते हैं। पिछला इतिहास भी यही कहता है और मौजूदा सीरीज के पहले मैच में भी यही देखने को मिला। भारत को इंग्लैंड ने पहले बैटिंग का न्यौता दिया और भारत ने 300 प्लस रन बना दिए। हालांकि इंग्लिश टीम भी बड़ा स्कोर बनाने में सक्षम है। पिछले मैच में उनके ओपनर्स ने इसकी एक झलक भी दिखाई और मध्यक्रम के फ्लाॅप हो जाने से वह 66 रन से हार गए। मगर मेहमान बल्लेबाजों ने जिस तरह से तूफानी बैटिंग की, उनके इरादे साफ है कि दूसरे मैच में बड़े स्कोर बनेंगे।

क्या दोनों टीमें छुएंगी 300 का आंकड़ा
पुणे के इस मैदान में 300 रन बनाना बहुत मुश्किल नहीं है। भारत ने यह कारनामा कर दिखाया है और अब इंग्लैंड की टीम दूसरे मैच में इसे करना चाहेगी। इंग्लिश कप्तान ने जाहिर कर दिया है कि, इंग्लैंड के बल्लेबाजों को बेखौफ खेलना जारी रहेगा। अगर यह सही है तो दूसरे मैच में फिर से चौके-छक्कों की बरसात देखने को मिलेगी। यानी इस बार दोनों टीमें 300 प्लस बनाने का विचार कर रही होंगी।

चेज करते हूए कितनी बार मिली जीत
इस मैदान में वनडे में चेज करते हुए टीमों को कम जीत मिली है। इस मैदान में अब तक सिर्फ पांच मैच खेले गए और पिछला मैच छोड़कर हर बार भारत ने चेज किया। इसमें दो बार वह सफल रहे जबकि दो मुकाबले उन्होंने गंवा दिए। मगर भारत ने पहले वनडे में फर्स्ट इनिंग खेली और जीत हासिल की। ऐसे में पहले बैटिंग करते हुए टीम ने अब तक 3 मैच जीते हैं जबकि चेज करने वाली टीम के खाते में सिर्फ दो जीत आई हैं।