वारसा/यरूशलेम/मुंबई/नई दिल्ली (राॅयटर्स/एएनआई/पीटीआई)। महामारी पर बात करते हुए माइक्रोसाॅफ्ट के सह संस्थापक बिल गेट्स ने एक पोलिस अखबार तथा टेलीविजन ब्राॅडकास्टर के साथ इंटरव्यू में कहा कि इस दौरान सिर्फ एक ही अच्छी खबर मिली थी कि वैक्सीन बन कर तैयार हो गई है। कोविड-19 वैक्सीन का धन्यवाद कि उसकी बदौलत दुनिया 2022 के अंत तक फिर से सामान्य हो सकेगी।

इजराइल में आधी से ज्यादा जनसंख्या को लगी वैक्सीन की दोनों डोज

इजराइज के स्वास्थ्य मंत्री ने बृहस्पतिवार को कहा कि उसकी आधी से ज्यादा जनसंख्या को कोविड-19 वैक्सीन की दोनों डोज लग चुकी है। महामारी के दौरान देश में तेजी से वैक्सीन अभियान को अंजाम दिया जा रहा है। दिसंबर में ही इजराइल में फाइजर की वैक्सीन लगनी शुरू हो गई थी। इसमें 16 वर्ष से अधिक उम्र के सभी नागरिकों को वैक्सीन दी जा रही है।

महाराष्ट्र में 50 लाख से ज्यादा लोगों को दी गई वैक्सीन

नोवल कोरोना वायरस महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित महाराष्ट्र भारत में ऐसा पहला राज्य बन गया है जहां 50 लाख से ज्यादा लोगों को कोविड-19 वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है। महाराष्ट्र के प्रमुख स्वास्थ्य सचिव डाॅ. प्रदीप व्यास ने इसकी बृहस्पतिवार को जानकारी दी। उन्होंने बताया कि वैक्सीन की दूसरी डोज भी भी अब तक 6,72,128 लोगों को दी जा चुकी है।

घरेलू मांग के चलते भारत ने रोका वैक्सीन का निर्यात

वैक्सीन से जुड़े कुछ सूत्रों ने बताया है कि घरेलू मांग को देखते हुए भारत ने अगले कुछ महीनों के लिए कोविड-19 वैक्सीन का निर्यात रोकने का फैसला किया है। सरकार ने यह फैसला कोरोना वायरस के मामलों में एकाएक तेजी की वजह से लिया है। उनका कहना था कि सभी कमर्शियल कांट्रेक्ट तथा एक्सपोर्ट वादे पूरे किए जाएंगे। साथ ही भारत दुनिया के उन देशों की मदद जारी रखेगा जिनके साथ महामारी के दौरान डील की गई है।