नई दिल्ली (आईएएनएस)। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मंगलवार को देश के विभिन्न हिस्सों में पेट्रोल की कीमतों में 100 रुपये प्रति लीटर को पार करने वाले ईंधन की कीमतों में वृद्धि के विरोध में संसद में साइकिल चलाई। इससे पहले एकता के प्रदर्शन में, कॉन्स्टीट्यूशन क्लब में राहुल गांधी द्वारा आयोजित ब्रेकफास्ट मीटिंग में 15 विपक्षी दलों ने भाग लिया। मुलाकात के दौरान राहुल गांधी ने कहा, मेरे विचार से सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि हमें इस ​आवाज(लोगों की आवाज) को एकजुट करना होगा। ये आवाज जितनी एकजुट होगी उतनी ही मजबूत होगी और भाजपा और आरएसएस के लिए इस आवाज को दबाना उतना ही मुश्किल होगा।

बैठक में वर्तमान राजनीतिक स्थिति पर भी चर्चा की
पेगासस स्नूपिंग मामले के सामने आने के बाद उन्होंने वर्तमान राजनीतिक स्थिति पर भी चर्चा की। बैठक में भाग लेने वाले दलों में कांग्रेस, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी), शिवसेना, राष्ट्रीय जनता दल (राजद), समाजवादी पार्टी, सीपीआई-एम, सीपीआई, आईयूएमएल, आरएसपी, केसीएम, झामुमो, नेशनल कॉन्फ्रेंस (एनसी) , तृणमूल कांग्रेस, डीएमके और एलजेडी आदि शामिल थे। हालांकि आम आदमी पार्टी (आप) और बहुजन समाज पार्टी बैठक से दूर रहे।

एकमात्र प्राथमिकता- हमारा देश, हमारे देशवासी
बैठक के बाद कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने भी एक ट्वीट में लिखा कि एकमात्र प्राथमिकता- हमारा देश, हमारे देशवासी। विपक्ष पेगासस जासूसी विवाद पर चर्चा की मांग करता रहा है लेकिन सरकार का कहना है कि आईटी मंत्री के बयान के बाद ही स्पष्टीकरण मांगा जा सकता है। वहीं संसदीय कार्य मंत्री प्रल्हाद जोशी ने इसे “गैर मुद्दा” करार दिया है।