हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज की तबियत बिगड़ी, दिल्ली AIIMS में भर्ती
हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज की तबियत बिगड़ी, दिल्ली AIIMS में भर्ती

यह भी पढ़ें

अंबाला (एएनआई)। हरियाणा के गृह और स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने शुक्रवार को कहा कि राज्य प्रधानमंत्री द्वारा दिए गए दिशानिर्देशों पर काम करेगा। उन्होंने इस बात को लेकर भी चिंता जताई है कि प्रदर्शनकारी किसानों को हरियाणा सीमा पर कोविड-19 से कैसे बचाया जाए जो बड़ी संख्या में एकत्र हुए हैं। अनिल विज ने कहा कि आज हरियाणा के बॉर्डर पर किसानों का इतना बड़ा जमावड़ा लगा हुआ है, कोरोना बहुत तेजी से फैल रहा है। मुझे उनको(किसानों) भी कोरोना से बचाना है। मैं केंद्रीय कृषि मंत्री को पत्र लिखने वाला हूं कि बातचीत का सिलसिला दोबारा शुरू किया जा सके। अनिल विज ने गुरुवार शाम को कोविड-19 स्थिति के संबंध में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ एक बैठक में भाग लिया।

हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज कोरोना वायरस पाॅजिटिव, दो सप्ताह पहले कोवैक्सीन ट्रायल में लगवाया था टीका
हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज कोरोना वायरस पाॅजिटिव, दो सप्ताह पहले कोवैक्सीन ट्रायल में लगवाया था टीका

यह भी पढ़ें

पीएम राज्यों से परीक्षण को तेज करने का आग्रह किया
पीएम मोदी ने गुरुवार को कहा कि सीओवीआईडी ​​-19 के कारण एक चुनौतीपूर्ण स्थिति फिर से उभर रही है और राज्यों से परीक्षण को तेज करने का आग्रह किया। देश में वैश्विक महमारी कोविड-19 स्थिति को लेकर मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की अध्यक्षता करते हुए पीएम माेदी ने कहा कि महाराष्ट्र, गुजरात, छत्तीसगढ़, पंजाब सहित कई राज्यों ने कोविड-19 मामलों के मामले में पहली लहर के शिखर को पार कर लिया है। यह चिंता का विषय है।

दिल्ली की विभिन्न सीमा पर किसान प्रदर्शन कर रहे
हजारों किसान तीन नए अधिनियमित कृषि कानूनों के खिलाफ 26 नवंबर से राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली की विभिन्न सीमा पर विरोध-प्रदर्शन कर रहे हैं। किसान उपज व्‍यापार एवं वाणिज्‍य (संवर्धन एवं सुविधा) विधेयक, 2020 , किसानों (सशक्तिकरण एवं संरक्षण) का मूल्‍य आश्‍वासन अनुबंध एवं कृषि सेवाएं विधेयक, 2020 और आवश्‍यक वस्‍तु (संशोधन) विधेयक, 2020 का विरोध हो रहा है। तीन कानूनों के कार्यान्वयन को जनवरी में सुप्रीम कोर्ट ने रोक दिया था।