300 बेड कोविड हॉस्पिटल को मिले 100 ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर
300 बेड कोविड हॉस्पिटल को मिले 100 ऑक्सीजन कंसन्ट्रेटर

यह भी पढ़ें

पालघर (एएनआई)। महाराष्ट्र के पालघर जिले के विरार इलाके में शुक्रवार एक कोविड अस्पताल में आग लग गई है। अस्पताल के गहन चिकित्सा इकाई (आईसीयू) में आग लगने से को कम से कम 13 मरीजों की मौत हो गई। कोरोना नियंत्रण कक्ष, वसई विरार नगर निगम ने बताया कि यह घटना अस्पताल की दूसरी मंजिल पर लगभग 3:30 बजे हुई। आग लगने की सूचना पाते ही बुझाने के लिए विरार फायर ब्रिगेड की तीन फायर टेंडर मौके पर पहुंची। हालांकि सुबह 5:20 बजे तक आग काे बुझा दिया गया था। आग की घटना से अस्पताल में अफरा-तफरी मच गई। सभी कोविड रोगियों को नजदीकी अस्पतालों में स्थानांतरित किया जा रहा है। आग किन वजहों से लगी है अभी इसका कारण पता नहीं चल पाया है।

पीएम ने किया आर्थिक मदद का ऐलान

कोविड हॉस्पिटल्स में सेवा देने वाले मेडिकोज को जॉब में प्रायोरिटी
कोविड हॉस्पिटल्स में सेवा देने वाले मेडिकोज को जॉब में प्रायोरिटी

यह भी पढ़ें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महाराष्ट्र के पालघर में कोविड अस्पताल में आग लगने की घटना पर दुख जताया। प्रधानमंत्री ने प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष से मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपये और गंभीर रूप से घायलों को 50,000 रुपये की अनुग्रह राशि देने को अपनी मंजूरी दी है। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी महाराष्ट्र के पालघर में कोविड अस्पताल में आग लगने की घटना में हुई मौतों पर दुख जताया और शोक संतप्त परिवारों के प्रति अपनी संवेदनाएं व्यक्त कीं। रक्षा मंत्री ने घायलों के जल्द ठीक होने की कामना की।

एक सप्ताह में यह दूसरा बड़ा हादसा

वहीं इस घटना को लेकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा कि विरार के विजय वल्लभ कोविड अस्पताल में आग लगने की घटना को लेकर गहरा दुख है। उनकी संवेदनाएं हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों के साथ हैं। इस पूरी घटना की जांच की जाए। महाराष्ट्र में कोविड मरीजों के साथ एक सप्ताह में यह दूसरा बड़ा हादसा है। इसके पहले महाराष्ट्र के नासिक में डॉक्टर जाकिर हुसैन अस्पताल के बाहर ऑक्सीजन टैंकर के लीक होने से 20 से ज्यादा कोविड-19 रोगियों की माैत हो गई।