नई दिल्ली (एएनआई)। कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए एक बार फिर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने केंद्र सरकार निशाना साधा है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने बुधवार को ट्वीट कर दावा किया कि केंद्र पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई (इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस) के साथ बातचीत कर सकती है, लेकिन मौजूदा संकट के बीच विपक्षी नेताओं से बात नहीं कर सकती है। आज देशभर से रिपोर्ट आ रही हैं कि बेड, ऑक्सीजन, रेमडेसिविर, वेंटिलेटर की कमी है। पहली वेव और दूसरी वेव के बीच हमारे पास तैयारी करने के कई महीने थे। भारत की ऑक्सीजन प्रोडक्शन कैपेसिटी दुनिया में सबसे बड़ी है, ऑक्सीजन को ट्रांसपोर्ट करने की सुविधा नहीं बनाई गई।

लोग शव जलाने को कूपन लेकर खड़े

कांग्रेस महासचिव ने कहा कि कितनी बड़ी त्रासदी है कि देश में ऑक्सीजन उपलब्ध है लेकिन जहां पहुंचना चाहिए वहां पहुंच नहीं पा रहा है। पिछले 6 महीने में 1.1 मिलियन रेमडेसिविर इंजेक्शन का निर्यात हुआ है और आज हमारे पास इंजेक्शन की कमी है। हर जगह से ऐसी रिपोर्ट आ रही हैं कि समझ में ही नहीं आ रहा कि ये सरकार क्या कर रही है? शमशान घाटों पर इतनी भीड़ लगी है, लोग शव जलाने को कूपन लेकर खड़े हैं। हम इस स्थिति में सोच रहे हैं कि हम क्या करें। जो सरकार को करना चाहिए था, वो सरकार नहीं कर रही है

भगवान के लिए सरकार कुछ करे

प्रियंका गांधी ने यह भी कहा कि मैं सकारात्मक तरीके से कह रही हूं कि भगवान के लिए सरकार कुछ करे। उनके पास जितने संसाधन हैं उन्हें वो कोरोना की लड़ाई में लगाएं। अगर केंद्र सरकार अपना मन बनाए तो अभी भी ऑक्सीजन की सुविधा बनाई जा सकती है। देश में कोरोना वायरस के मामले तेजी से देश में बढ़ रहे हैं। भारत में एक दिन में कोविड-19 के 2, 95,041 नए मामले आने के बाद कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 1,56,16,130 हुई। वहीं 2,023 नई मौतों के बाद देश में कुल मौतों की संख्या 1,82,553 हो गई है।