बेंगलुरु (एएनआई)। देश के पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर देश भर में वैश्विक महामारी कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए सुझाव दिए। उन्होंने पत्र में सबसे पहले कहा कि मैं महामारी को रोकने टीकाकरण कार्यक्रम का प्रसार करने और लोगों की जान बचाने के लिए उन सभी रचनात्मक फैसलों और पहलों का समर्थन करूंगा जो संघ सरकार आपके नेतृत्व में कर रही है। इसके बाद सुझाव दिया कि यदि सरकार सभी नागरिकों को मुफ्त में कोरोना वायरस वैक्सीन देने का निर्णय लेती है, तो यह एक बहुत बड़ा मानवीय कदम साबित होगा। लोगों का टीकाकरण जल्द से जल्द करवाने के लिए एक निश्चित समय सीमा बनानी होगी।

सबसे गरीब लोगों को ध्यान में रखते हुए रखी जाए वैक्सीन की कीमत

पूर्व प्रधानमंत्री ने यह भी सुझाव दिया कि सभी स्तरों पर निर्वाचित प्रतिनिधियों को अपने-अपने निर्वाचन क्षेत्रों में टीकाकरण सुनिश्चित करने के लिए लक्ष्य दिए जाने चाहिए। टीकाकरण का मूल्य निर्धारण सबसे गरीब लोगों को ध्यान में रखते हुए किया जाना चाहिए। पहचान प्रमाण के सभी अवरोधों को उन गरीब लोगों के लिए छोड़ देना चाहिए जो स्वयं टीकाकरण के लिए आगे आते हैं। वहीं उन सभी कोविद योद्धाओं के परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी प्रदान करनी चाहिए जिन्होंने इस महामारी के खिलाफ लड़ाई में अपना जीवन खो दिया है।

सभी बड़े सार्वजनिक समारोहों पर पूर्ण प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए

सरकारी क्षेत्र में काम करने वाली गर्भवती महिलाओं के वेतन के साथ तीन महीने की छुट्टी पर विचार किया जाना चाहिए। इसके अलावा अगले छह महीनों के लिए सभी बड़े सार्वजनिक समारोहों पर प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए। पूर्व प्रधानमंत्री ने कहा कि इस महीने चुनावों में जीत के जश्न पर राेक लगाने के लिए तुरंत कदम उठाए जाने चाहिए। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि देश में वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के बीच अब तक 14.19 करोड़ से ज्यादा को लोगों को कोविड-19 वैक्सीन लगाई जा चुकी है।