कानपुर (इंटरनेट डेस्क)। भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) की वेदर रिपोर्ट के मुताबिक, मध्य प्रदेश के उत्तर पश्चिम में साइक्लोनिक सर्कुलेशन बनता नजर आ रहा है। धीरे-धीरे यह दक्षिण की ओर खिसक रहा है। मानसून का पश्चिमी किनारा अपनी सामान्य स्थिति पर बना हुआ है। अगले 24 घंटों के दौरान यह उत्तर की ओर बढ़ने लगेगा। मानसून का पूर्वी किनारा अपनी सामान्य स्थिति की ओर खिसक रहा है।

बंगाल की खाड़ी में लो प्रेशर
मौसम विभाग ने अपने पूर्वानुमानों में बताया है कि बंगाल की खाड़ी में चक्रवातीय हलचल की वजह से उत्तर की ओर लो प्रेशर बनता नजर आ रहा है। वातावरण में इस प्रकार की हलचलों से जम्मू तथा कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ तथा उत्तर प्रदेश में 29 जुलाई तक भारी बारिश के आसार बन रहे हैं। हिमाचल प्रदेश तथा उत्तराखंड के कुछ स्थानों पर कहीं-कहीं भारी बारिश होगी।

पूर्वी तथा मध्य भारत में बारिश
भारतीय मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि पूर्वी राजस्थान तथा मध्य प्रदेश के पश्चिमी हिस्से में बरसात जारी रहेगी। इसके अलावा कोंकण, गोवा तथा मध्य महाराष्ट्र के घाट वाले इलाकों में अगले तीन दिनों तक भारी बारिश के आसार नजर आ रहे हैं। पूर्वी तथा मध्य भारत के राज्यों ओड़िशा, पश्चिम बंगाल के गंगा से लगे इलाके, बिहार तथा झारखंड के इलाकों में भारी बारिश होगी।