कानपुर (इंटरनेट डेस्क)। अखिल इंजीनियरिंग की पढ़ाई बीच में ही छोड़कर वीएफएक्स की फील्ड में कूद पड़े। वे सिर्फ 27 साल के हैं, लेकिन कमोबेश हर बड़े पंजाबी सिंगर्स के साथ काम कर चुके हैं। शुरुआती संघर्षों के बाद पंजाबी सिंगिंग इंडस्ट्री में उनकी मजबूत पहचान है। हरियाणा के महेन्द्रगढ़ जिले के छोटे से गांव ढाणी फैज़ाबाद से निकलकर सिर्फ और सिर्फ अपनी जिद के बूत अखिल ने ये मुकाम बनाया है। म्यूजिक वीडियो इंडस्ट्री में बतौर VFX डायरेक्टर अखिल की धूम है। घरवालों की मर्जी पर अखिल ने इंजीनियरिंग की परीक्षा पास की और बीटेक में दाखिला भी लिया। लेकिन पहले ही साल की पढ़ाई के दौरान उन्हें ये समझ आ गया कि ये उनकी फील्ड नहीं है।

पढ़ाई छोड़कर पकड़ी नई राह
अखिल की हमेशा से कुछ क्रिएटिव करने की चाह थी। उन्हें इंजीनियरिंग की नीरस पढ़ाई रास नहीं आयी। संगीत का शौक बचपन से ही था, ऐसे में इसी फील्ड में कुछ आजमाने का फैसला लिया। बचपन के दोस्त हिमांशु धर से सलाह मशविरा किया। फैसला हुआ कि इंजीनियरिंग की पढ़ाई छोड़कर वीएफएक्स की फील्ड में कुछ किया जाए। उसी दोस्त के साथ मिलकर 2014 में इनसाइड मोशन पिक्चर्स नाम से कंपनी बनाई। इसके साथ ही पंजाबी संगीत इंडस्ट्री और हिंदी संगीत इंडस्ट्री में उनका संघर्ष का दौर शुरू हुआ।

करना पड़ा बहुत संघर्ष
अखिल बताते हैं कि ये सब करना आसान नहीं था। इंडस्ट्री में जगह बनाने के लिए बहुत संघर्ष करना पड़ा। कोई जान-पहचान नहीं थी। घर परिवार का दबाव अलग से था। इंजीनियरिंग ड्रॉपआउट थे तो समाज से भी ताने मिलते थे। कितना कमा लेते हो? अगर नहीं कमाते तो क्यों करते हो? पढ़ाई क्यों छोड़ दी? जैसे तमाम सवाल। लेकिन लगन, मेहनत और खुद के भरोसे की वजह से आज अखिल (InsideAKY) की कंपनी इनसाइड मोशन पिक्चर्स पंजाबी फिल्म इंडस्ट्री और बॉलीवुड में किसी परिचय की मोहताज नहीं है।

युवाओं को देते हैं ट्रेनिंग
शुरुआत छोटे-छोटे म्युजिक एलबम से हुई। लेकिन अब वे पंजाबी के हर बड़े सिंगर्स के साथ काम कर चुके हैं। साथ ही अखिल इनसाइड इंस्टिट्यूट ऑफ़ फिल्ममेकिंग के जरिए युवा निर्देशक, फोटोग्राफर, वीडियोग्राफर और कलाकारों को भी ट्रेनिंग दे रहे हैं। अखिल बताते हैं कि इंडस्ट्री में अनजान होने की वजह से जिन मुश्किलों का सामना उन्हें करना पड़ा है, वो नहीं चाहते कि नए कलाकारों को उतनी परेशानियों का सामना करना पड़े।